तीन पत्ती | असली राशि में खेलने के लिए एक सम्पूर्ण गाइड - TeenPatti Hindi

तीन पत्ती

भारत उन चंद देशों में से एक है जो कार्ड गेमों को बरसों से खेल रहा है। भारत में कार्ड गेमों का इतिहास महाभारत काल तक जाता है। कौरवों और पांडवों के बीच में होने वाली चौसर खेल महाभारत होने के सबसे बड़े कारणों में से एक है। यह गाथा भारत के अंदरूनी कहानियों की सूची में सबसे ऊपर रहती है। इसलिए भारतीयों में कार्ड गेमों का आईडिया बिलकुल नया है। 

हालांकि चौसर का उल्लेख महाभारत के बाद की दुनिया में नहीं होता है, भारत में कार्ड खेलों का इतिहास वही नहीं रुकता। इन्ही टॉप कार्ड गेमों की सूची में एक प्रबल नाम आता है ‘तीन पत्ती’। तीन पत्ती एक ऐसा खेल है जिसे पीढ़ी दर पीढ़ी बढ़ावा दिया गया है। इस खेल का इतिहास में भी एक महत्वपूर्ण उल्लेख है। इतना ज़्यादा की आज के लगभग हर व्यक्ति ने अपने दादा के ज़माने की तीन पत्ती की कहानियां सुनी हैं। तीन पत्ती उन खेलों में से एक है जिसे लोग अपने दफ्तर के काम, खेती, अथवा अन्य सभी तरह के मुश्किलों भरे कार्यों के बाद अपने मन को उल्लासित करने के लिए खेला करते थे। गाँव की चौपाटी और घरों के आंगनों के हर कोने से इस खेल की यादें जुडी हुई हैं। इसी प्रकार इस खेल ने हमेशा से ही सभी भारतियों के मन में अपनी एक अलग जगह बनाई हुई है। 

तीन पत्ती की प्रसिद्धता

आज के दौर में इस खेल की प्रसिद्धता कुछ इस प्रकार की हो गई है की इस भाग दौड़ भरी ज़िन्दगी में भी इस खेल ने एक नया रास्ता खोज निकाला है। इस बात को नकारा नहीं जा सकता कि आज हम में से बहुत काम ही ऐसे लोग होंगे जो होने व्यस्तता भरे दिनचर्या से खेल-कूद के लिए समय निकाल व्यस्तता का सबसे बड़ा प्रमाण यहीं से मिल जाता है कि पहले के मुकाबले आज गिने चुने ही लोग सिनेमा देखने सिनेमा घरों में जा पाते हैं, जबकि भारत उन देशों में से है जहाँ हर हफ्ते दर्जनों पिचरें रिलीज़ होती हैं। इसी बात से अंदाजा लगाया जा सकता है की असल दुनिया में तीन पत्ती जैसे खेल खेलना कितना मुश्किल हो गया। अगर इस दौर में किसी चीज़ के लिए लोगों के पास समय है, तो वह है ऑनलाइन दुनिया।

ऑनलाइन दुनिया आज हर एक व्यक्ति के मुट्ठियों में बंद है और व्यक्ति जब चाहे तब उसमे अपने कदम रख सकता है। यही कारन है की तीन पत्ती जैसे प्राचीन खेल ने भी अपने अस्तित्व की दोबारा खोज करने के लिए ऑनलाइन दुनिया में कदम रखा। 

क्या आप जानते हैं की तीन पत्ती को दुनिया भर में कई अन्य नामों से भी जाना जाता है? उदाहरण के लिए – फ़्लैश, फ्लश, और भारतीय पोकर। 

ऑनलाइन तीन पत्ती की खासियत

ऑनलाइन तीन पत्ती भारत में खेले जाने वाले विभिन ऑनलाइन गेमों की सूची के शीर्ष में सवार है। ऑनलाइन होने के वजह से ना ही यह आसानी से खेला जा सकता है बल्कि इसके साथ कई अन्य फायदे भी देता है। आइये इन फायदों के बारे में विस्तार से जानें:

  • विविधता – क्यूंकि यह खेल ऑनलाइन खेला जाता है इसलिए खेल के डेवलपरों को खेल में रोमांचक किस्म की विविधता लाने की सुविधा प्रदान करता है। इसका ही नतीजा है की आज तीन पत्ती के कई नए एवं रोमांचक वेरिएशन मौजूद हैं। कुछ तीन पत्ती गेम सामान्य से बड़े पुरुस्कारों के लिए खेले जाते हैं, वहीँ कुछ तीन पत्ती वेरिएशन डेवलपर द्वारा किए गए कुछ ने नियमों के साथ खेले जाते हैं। 
  • उपलब्धता – किसी भी खेल के ऑनलाइन होने का यह अर्थ होता है कि इस खेल को खेलने के लिए खिलाडी को अपने दोस्तों की टोली में बैठने की आवश्यकता नहीं है। अगर खिलाडी को खेलने की इच्छा है तो इंटरनेट पर मौजूद अन्य लाखों खिलाडियों में से किसी के साथ कभी भी खेल सकता है। इस तरह से खेल को खेल पाने की उपलब्धता कई गुना बढ़ जाती है। तो भले ही आप अपने दफ्तर पहुंचे की होड़ में हो या घर पर बैठे बैठे बोर हो रहे हों, किसी भी क्षण गेम को खोलते ही आप इस खेल को खोल सकते हैं। 
  • बोनस एवं पुरुस्कार – एक ऐसी चीज़ जो आपको प्राचीन तीन पत्ती में कभी नहीं मिलेगा, यह है बोनस। बोनस वह राशि या फायदा होता है जो आपको खेल की पुरुस्कार राशि के अलावा प्राप्त होता है। क्यूंकि इंटरनेट की दुनिया भरी पड़ी है लाखों तीन पत्ती गेमों से, हर डेवलपर चाहता है की लोग सबसे ज़्यादा उनके द्वारा डेवेलोप की गई तीन पत्ती गेम को खेलें। इस लक्ष्य को प्राप्त करने के लिए डेवलपर अपने खेल से जुड़ने वाले लोगों को अपनी ओर से बोनस प्रदान करते हैं। यह बोनस आगे आने वाली मैचों में उपयोग करके खिलाडी अपने कुछ असली राशि की बचत कर सकते हैं। और इतना ही नहीं, अच्छा खेलने पर खिलाडी मैचों में और भी ज़्यादा बोनस प्राप्त कर सकते हैं। 
  • सुरक्षा – वैसे तो इंटरनेट पर हज़ारों तीन पत्ती गेम मौजूद हैं, किन्तु अगर आप के विस्तारित रिसर्च करके अच्छे तीन पत्ती खेल का पता लगाते हैं तो इन खेलों में बहुत ही सुरक्षित रूप का खेल अनुभान पा सकते हैं। ज़्यादातर अच्छी कंपनियों के गेम सुरक्षा की सभी नियमों का पालन करते हैं और आपकी सभी डाटा एवं पैसों को पासवर्ड द्वारा सुरक्षित रखती है। ध्यान रहे की आप अपना आईडी पासवर्ड किसी से भी शेयर ना करें। 

तो अब जबकि आप जान चुके हैं की ऑनलाइन तीन पत्ती खेलने के कितने फायदे हैं, तो जाहिर है की आप भी जानना चाहते होंगे की आप इस खेल को कहाँ और कैसे खेल सकते हैं। आपकी इन्ही सवालों का जवाब हम आपको आगे आने वाला पार्ट में देंगे। 

तीन पत्ती का उद्देश्य

तीन पत्ती का उद्देश्य बेहद साधारण है। खेल कई राउंडों में खेला जाता है और हर राउंड में कोई भी खिलाडी विजेता बन सकता है। जो भी खिलाडी राउंड के अंत में सबसे ताकतवर या ज़्यादा मूल का हैंड शो करता है वही उस राउंड का विजेता बनता है। जीतने वाले को राउंड में जमा होने वाली पूरी राशि दी जाती है और फिर नए राउंड का आरंभ किया जाता है। 

तीन पत्ती से जुडी आवश्यक जानकारी

अगर आप इस खेल के बारे में पहली बार पढ़ रहे हैं तो जाहिर है कि आपको ऊपर लिखे गए शब्दों जैसे की हैंड, शो या राउंड का अर्थ समझ नहीं आया होगा। इस सेक्शन में आप इसी से जुडी जानकारी पाएंगे। 

  • हैंड – हर राउंड में आपको जो तीन पत्तियां प्राप्त होती हैं उसे ही खेल के भाषा में हैंड कहा जाता है। 
  • राउंड – एक बार कार्ड बंटने के बाद जब तक किसी खिलाडी को विजेता घोषित नहीं कर दिया जाता उसे राउंड कहते हैं। 
  • सीन – जिस भी खिलाडी ने अपने कार्ड देख लिए हैं उसे सीन खिलाडी कहते हैं। एक सीन खिलाडी को खेल जारी रखने के लिए चल रहे बेस सट्टे की राशि से दोगुनी राशि देनी पड़ती है।  
  • ब्लाइंड – जिस खिलाडी ने अपने कार्ड नहीं देखे हैं उसे ब्लाइंड प्लेयर कहते हैं। एक ब्लाइंड प्लेयर चाहे तो बेस सट्टे की राशि को अपने हिसाब से बढ़ा सकता है। हालांकि कई खेलों में बेस सट्टे की राशि को एक पॉट सीमा तक ही बढ़ाया जा सकता है। 
  • चाल – सीन प्लेयर द्वारा लगाए गए सट्टे को चाल कहते हैं। 
  • बूट –  खेल की न्यूनतम सट्टे की सीमा को बोर्ड कहते हैं। 
  • फोल्ड – अगर किसी खिलाडी को होने कार्ड देखने के बाद यह आभास होता है की वह उस हैंड से विजेता पद के लिए नहीं लड़ सकता और खेल को वहीँ ख़त्म करना चाहता है तो उसे अपना हैंड छोड़ना होगा, और इसे ही फोल्ड कहा जाता है। 
  • शो – अगर आखरी के दो खिलाड़ियों में से एक खिलाडी दुसरे खिलाडी के कार्ड देख कर खेल का अंत करना चाहता है तो उससे शो करवाना होगा। शो करवाने के लिए उस खिलाडी को उस समय चल बेट मूल से दोगुनी राशि देनी पड़ती है। 
  • पॉट सीमा – कई तीन पत्ती खेल ऐसे भी होते हैं जहां खिलाडी एक तय सीमा से ज़्यादा बड़े सट्टे नहीं लगा सकते। इसी सीमा को पॉट सीमा का नाम दिया जाता है। 

तीन पत्ती के नियम

तीन पत्ती को लोकप्रिय रूप से पोकर का भारतीय स्वरुप भी कहा जाता है। पोकर की ही तरह इस खेल में कुछ हैंड अन्य हैंडों से ज़्यादा महत्वपूर्ण होते हैं और ज़्यादा बड़े हैंड वाले खिलाडी को विजय प्राप्त होती है। इसके अलावा, पोकर की ही तरह खिलाडी को अपने प्रतिद्वंदियों के कार्ड का ज्ञात करना भी आना चाहिए और इसलिए यह आवश्यक है की खिलाडी इस खेल से जुड़ने के पहले इस खेल की खेल प्रक्रिया एवं नियमों को अच्छे से समझ ले। 

  1. यह खेल 4 या अधिकतम 8 लोगों के बीचे खेला जा सकता है। खेल शुरू होने से पहले खिलाडियों को बूट राशि जमा करने का आदेश दिया जाता है। 
  2. इसके बाद हर खिलाडी को एक बार में तीन-तीन कार्ड दिए जाते हैं। यह सभी कार्ड फेस-डाउन करके दिए जाते हैं। 
  3. खेल अब प्रारम्भ होता है। अगर कोई खिलाडी चाहे तो कार्ड मिलते ही अपने कार्ड देख सकता है। ऐसा करने पर वह सीन प्लेयर बन जाता है। 
  4. एक सीन प्लेयर अगर खेल को जारी रखना चाहता है तो उसे उस समय चल रहे सट्टे की सीमा से दोगुनी राशि देनी पड़ती है। अन्यथा वह फोल्ड कर सकता है। 
  5. अगर खिलाडी अपने कार्ड को बिना देखे खेल जारी रखना चाहता है तो वह केवल सट्टे की राशि देकर खेल में बना रह सकता है। 
  6. इस दौरान अगर कोई दो सीन प्लेयर एक दूसरे से प्रतियोगिता करना चाहते हैं तो उन्हें साइडशो कवना होगा। साइडशो करवाने के लिए पहले खिलाडी को दोगुनी राशि देनी होगी, हालांकि अगर दूसरा खिलाडी चाहे तो वह साइडशो के लिए इंकार भी कर सकता है। ध्यान रहे की साइडशो सिर्फ दो अगल-बगल बैठने सीन प्लेयर ही कर सकते हैं। साइडशो करने पर जिस भी खिलाडी के हैंड का मूल काम होता है वह उस खेल से बाहर हो जाता है। 
  7. इस बीच ब्लाइंड प्लेयर अगर चाहे तो राउंड के बेस सट्टे को बढ़ा सकता है और उसी अनुसार सीन प्लेयर के खेल जारी रखने का बेट भी बढ़ता रहता है। 
  8. यह खेल इसी तरह खेला जाता है जबतक की राउंड में सिर्फ दो खिलाडी नहीं बच जाते। 
  9. इसके बाद गेम को तबतक खेला जाता है जब तक दोनों खिलाडियों ने अपना कार्ड देख न लिया हो। 
  10. अंत में शो के द्वारा खेल का विजेता तय किया जाता है। 

इस आसान और प्रतिभागी खेल प्रक्रिया के वजह से ही यह खेल आज विश्व की सबसे प्रसिद्ध कार्ड गेमों में से एक का सम्मान हासिल कर पाया है। इस खेल के बारे में अगर कुछ मुश्किल है तो वह सिर्फ हैंडों के मूल्य को याद करना है। हालांकि, खेल अनुभव के साथ खिलाडी के लिए हैंड मूल्यों को याद रखना भी आसान हो जाता है। इन हैंडों की मूल्य को समझाने के लिए हमने आपके लिए एक साधारण लेकिन सरल सूची तैयार की है। इसे कंठस्त कर लें और आप तीन पत्ती ऑनलाइन खेलने के लिए बिलकुल तैयार हो जाएंगे। 

रैंक↑ हैंड  विवरण उदहारण 
ट्रेल  एक ट्रेल उससे कहते हैं जब हैंड के तीनों कार्ड किसी एक ही मूल के हों।  A♣-A♠-A♥
प्योर सीक्वेंस  एक ऐसा हैंड जिसमें तीनों कार्ड, कार्ड के मूल्य के हिसाब से सीक्वेंस में हों और उनका कलर भी एक ही हो।  A♠-K♠-Q♠
स्ट्रेट  ऐसा हैंड जिसमें कार्ड सीक्वेंस में हों किन्तु उनका कलर एक ना हो।  A♠-K♣-Q♦
कलर  एक ऐसा हैंड जिसमे तीनों हैंड एक ही कलर के हों।  A♦-K♦-10♦
जोड़ी  एक ऐसा हैंड जिसमें कोई दो कार्ड एक ही मूल्य के हों।  10♥-10♣-6♦
बड़ा कार्ड जब भी दो खिलाडियों के बीचे में ऊपर दिए गए किसी भी हैंड मूल्य की मौजूदगी ना हो तो ऐसी हालत में जिस हैंड में ज़्यादा मूल्य का एक पत्ती हो, वह विजेता होता है।  K♠-9♥-3♣

नोट: कई बार एक ही हैंड में दो प्रकार के हैंड हो सकते हैं। जैसे की कलर और जोड़ी हैंड का एक साथ होना। ऐसे हाल में कलर और जोड़ी वाले हैंड को कलर वाले हैंड से ज़्यादा ऊपर रखा जाता है और दोनों हैंडों वाले खिलाडी को विजेता माना जाता है।

कहाँ खेलें तीन पत्ती ऑनलाइन?

वैसे तो इंटरनेट पर ऐसे कई साइट एवं ऍप हैं जो ऑनलाइन तीन पत्ती की सेवा प्रदान करते हैं किन्तु एक अच्छा तीन पत्ति ऑनलाइन गेम चुनने के लिए निम्नलिखित कारकों को ध्यान में रखें। 

  • आसान साइन-अप प्रक्रिया 
  • उम्दा बोनस एवं प्रोमोशंस 
  • भुगतान और निकासी के विभिन विकल्प 
  • सरल यूजर-इंटरफ़ेस 
  • तेज़ एवं सक्रीय ग्राहक सेवा टीम 
  • ऑनलाइन रिव्यु, और सबसे ज़रूरी 
  • साइट की प्रामाणिकता

इन सभी कारकों का ख्याल रखने पर आप एक आनंदमय तीन पत्ती खेल का अनुभव पा सकते हैं। 

Teenpatti.co.in is an information only site and we will not ask you for money. Our information is just for fun and are not a form of gambling and we do not guarantee the accuracy of the information available on our site. Teenpatti.co.in takes no responsibility for actions performed by it’s users outside of Teenpatti.co.in or on the sites of any of it’s advertised partners. Teenpatti.co.in does not condone gambling in any way.

Teenpatti.co.in is not in any way associated with the IPL, BCCI, ISL, nor with the FSDL. Teenpatti.co.in is a Malta-based business and does not operate, facilitate or condone any real money gambling transactions.

We earn our revenue from advertising and some of these adverts might be related to gambling, however, we do not endorse or condone gambling. Be aware that gambling laws vary between states and territories. Please check your local laws before engaging in any real money gambling. You should always check your local laws before performing real money gambling. In India laws vary from state to state and again we ask users to refer to their local laws before gambling with real money.

© www.teenpatti.co.in All Rights Reserved 2020